Advertisement

Top Pharma Export Companies in India

Top pharma export companies in India- India में pharmaceutical मार्केट volume के मामले में विश्व भर में तीसरा सबसे बड़ा और value के मामले में विश्व भर में 13 वां सबसे बड़ा बाजार है। भारत को विश्व भर में generic दवाओं के सबसे बड़े आपूर्तिकर्ताओं में से एक माना जाता है। 

भारत ने खुद को विश्वव्यापी भी निर्माण और अनुसंधान केंद्र के रूप में स्थापित किया है। भारत में सबसे बड़ी pharmaceutical कंपनियां होने के नाते joinhub pharma में भारत सभी formulation को कवर करने वाले 1000 से भी ज्यादा product की पेशकश करता है और लगभग सभी क्षेत्रों को भी cover करते हैं। 

तो दोस्तों, भारत ने यूरोप, अफ्रीका, नाफ्टा, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, नाइजीरिया, संयुक्त राज्य अमेरिका और रूस जैसे देशों में दवाइयों का निर्यात किया है। आइए, अब इस लेख के माध्यम से हम Top pharma export companies in India के बारे मे जान लेते हैं। आप इस जानकारी के लिए हमारे साथ लेख के अंत तक बने रहे। 

Top 10 Pharma export companies in India:

  1. Sun Pharma Industries Limited ( सन फार्मा इंडस्ट्रीज लिमिटेड)
  2. Ipca Laboratories Limited (आईपीसीए लैबोरेट्रीज लिमिटेड)
  3. Biocon Limited (बायोकॉन लिमिटेड)
  4. Dr Reddy labs (डॉ रेड्डी लैब्स)
  5. Cipla (सिपला) 
  6. Cadila Health Care Limited (कैडिला हेल्थ केयर लिमिटेड) 
  7. Aurobindo Pharma Limited (अरबिंदो फार्मा लिमिटेड) 
  8. Divis Laboratories (डिविस लैबोरेट्रीज) 
  9. Torrent pharmaceuticals (टोरेंट  फार्मास्युटिकल्स ) 
  10. Alkem Laboratories Limited (अल्केम लैबोरेट्रीज लिमिटेड) 
  1. Sun Pharma Industries Limited:

सन फार्मा इंडस्ट्रीज लिमिटेड की शुरुआत 1983 में दिलीप शांघवी ने की थी और 2014 में इस कंपनी ने रैनबैक्सी का सरकार द्वारा अधिग्रहण किया और भारत की सबसे बड़ी फार्मा कंपनी बन गई। सन फार्मा इंडस्ट्रीज लिमिटेड दुनिया की सबसे बड़ी चौथी फार्मा कंपनी है। यह कंपनी 50 से अधिक देशों में सस्ती दवाइयां बेचती है। इस कंपनी का शेयर अभी 691 रुपए का है। पिछले 1 साल में कंपनी ने 51 फ़ीसदी का रिटर्न दिया है।

  1. Ipca Laboratories Limited:
Advertisement

Ipca Laboratories Limited Indian multinational pharmaceutical company है। इस कंपनी की स्थापना 1949 मे के. बी. मेहला, डॉ एन. एस. टिब्रावाला ने की थी। Ipca Laboratories Limited के चेयरमैन  श्री प्रेमचंद गोधा है। इस कंपनी का headquarters मुंबई मे है। ipca Laboratories Limited का उत्पाद  Pharmaceutical ingredients, drugs आदि  है।

 इस फार्मा कंपनी में 14,006 कर्मचारी काम करते हैं। Ipca Laboratories Limited मार्केट कैप 27,084cr है।

  1. Biocon Limited:

Biocon Limited एक Indian Biopharmaceutical Company है। इस कंपनी की स्थापना 1978 में किरण मजूमदार शॉ ने की थी। Biocon Limited के मुख्यालय बेंगलुरु, कर्नाटक और भारत में है।  इस कंपनी के CEO सिद्धार्थ मित्तल है। 

यह कंपनी जेनरिक Active Pharmaceutical ingredients को manufacture करती है। Biocon Limited दुनिया भर में 120 से अधिक देशों में अपनी दवाएं एक्सपोर्ट करते हैं। यह कंपनी 1979 मे बाहरी देश यूरोप और USA मे enzymes निर्माण और निर्यात करने वाली पहली इंडियन कंपनी है। बायोकॉन लिमिटेड का मार्केट कैप ₹46,127cr है।

Advertisement
  1. Dr.Reddy’s labs:

 Dr.Reddy’s lab की स्थापना 1984 में कल्लम अंजी रेड्डी ने की थी। इस कंपनी के CEO इरेज़ इजरायल  है। Dr Reddy’s lab के हेड क्वार्टर तेलगाना,हैदराबाद में है। यह कंपनी फार्मास्युटिकल्स की एक सबसे बड़ी रेंज की प्रोडक्शन का काम करती है। इस कंपनी द्वारा सबसे पहले मेडिसन norilet एंटीबायोटिक लॉन्च की गई। इस कंपनी के शेयर की कीमत पहले करीब 3770₹ थी, जो अब 5196₹ हो गई है।

  1. Cipla:

Cipla की स्थापना ख्वाजा अब्दुल हमीद ने 1935 मे की थी। इस कंपनी का हेड क्वार्टर मुंबई में है। पहले इस कंपनी का नाम chemical industry & pharmaceuticals laboratory था। फिर कुछ सालों बाद इसका नाम बदलकर Cipla रख दिया गया। इस कंपनी के CEO उमंग वोहरा है। 1995 में Cipla कंपनी द्वारा डफेरिप्रोन दुनिया का पहला ओरल आयरन चेलेटर लांच किया।

  1. Cadila HealthCare Limited:

Cadila की स्थापना रमन भाई पटेल और इंद्रवदन मोदी ने 1952 मे मिलकर की थी। 1995 में रमन भाई पटेल द्वारा Cadila Healthcare Limited और इंद्रवदन मोदी द्वारा Cadila Pharmaceuticals Limited को स्थापित किया। कैडिला हेल्थकेयर लिमिटेड के चेयरमैन ग्लेन सल्दान्हा है। इस कंपनी के हेड क्वार्टर अहमदाबाद गुजरात में है। इस कंपनी के शेयर की कीमत साल भर पहले करीब 328₹ थी, जो अब 617₹ हो गई है।

Advertisement
  1. Aurobindo Pharma Limited:

 Aurobindo Pharma Limited की स्थापना वी.रामप्रसाद जी और के.नित्यानंद रेड्डी 1986 की थी।  इस कंपनी के CEO अरविंद वासुदेवा है। इस कंपनी के हेड क्वार्टर्स हैदराबाद तेलंगाना में है। Aurobindo Pharma Limited लगभग 125 देशों में अपनी दुआओं को export करती हैं। Aurobindo Pharma Limited Anti-retroviral, Antibiotic cardivoascular, और Anti-allergic medicine magnifacture और export करने का काम करती है।

  1. Divis Laboratories:

 Divis Laboratories की शुरुआत डिविस रिसर्च सेंटर की तरह हुई थी। 1994 में इस कंपनी ने नाम बदलकर डिविज लैबोरेट्रीज लिमिटेड कर लिया। डिविज लैबोरेट्रीज ने अपना रिसर्च सेंटर 2010 में हैदराबाद में खोला। पिछले साल इस कंपनी के शेयर की कीमत करीब 2320₹ थी, जो आज 4020₹ हो गई है। Divis Laboratories ने 1 साल में 82 फ़ीसदी रिटर्न दिया है।

  1. Torrent Pharmaceuticals:

 Torrent  pharmaceutical की स्थापना 1962 में उत्तमभाई नाथालाल मेहता जी ने की थी। उत्तम भाई नाथालाल मेहता भारत के टॉप के बिजनेसमैन के रूप में जाना जाता है। यह Indian multinational pharmaceuticals  कंपनी और विश्व की टॉप कंपनियों में से एक है। Torrent Pharmaceutical भारत के अलावा लगभग 40 देशों में अपनी कंपनी जेनेरिक मेडिसन मार्केट करती है। इस कंपनी का मार्केट कैप  51702cr है।

  1. Alkem  Laboratories Limited:

 Alkem Laboratories Limited की स्थापना संप्रदा सिंह ने 1973 में की थी। इस कंपनी के  exqutive chairman वसुदेवो नारायण सिंह है। इस कंपनी के हेड क्वार्टर मुंबई और महाराष्ट्र में है। Alkem Laboratories Limited द्वारा  research, development और manufacturing बहुत बड़ी मात्रा में किया जाता है । इस कंपनी का मार्केट कैप 40,873cr है।

निष्कर्ष

हमारी देश की अर्थव्यवस्था का बहुत बड़ा हिस्सा Pharma Companies है।  Pharma Companies का आयात निर्यात बहुत बड़ी मात्रा में किया जाता है। आज हमने आपको Top pharma export companies in India के बारे में विस्तार से बताया है। हम आशा करते हैं यह जानकारी आपको  शेयर मार्केट में फार्मा कंपनी के share मे invest करने के लिए एक बेहतरीन विकल्प मिलेगा। 

FAQ

Q. 1 भारत से दूसरे देशों में दवाइयों का कितना प्रतिशत निर्यात होता है? 

Ans. 57.3 billion dollar in FY 2021-22

Q. 2 भारत कौन-कौन से देशों में दवाइयों का निर्यात करता है? 

Ans. यूरोप, अफ्रीका, नाफ्टा, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, नाइजीरिया, संयुक्त राज्य अमेरिका और रूस

Q. 3 भारत की सबसे बड़ी फार्मास्यूटिकल कंपनी कौन सी है? 

Ans. Sun Pharmaceutical industries

Leave a Comment