Sponsored

What is Indexation in Mutual Funds

indexation निवेश में आपकी लाभ और हानि को जोड़ने में काफी मदद करता है। साथ ही यह हमारे इन्वेस्टमेंट की टैक्स लायबिलिटी को भी कम करता है। लेकिन म्यूचुअल फंड में indexation किस तरह से लाभ पहुंचाता है इसकी जानकारी बहुत ही कम लोगों को है। इसलिए अक्सर लोगों का यह सवाल रहता है कि what is indexation in mutual funds? और यह Mutual fund के टैक्स को कैसे कम करता है?

तो आइए आज के इस लेख में हम इसी बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं और समझते हैं कि what is indexation in mutual funds? साथ ही हम indexation से संबंधित कई अन्य जानकारियां भी प्राप्त करने की कोशिश करेंगे। 

इंडेक्सेशन क्या होता है? What is Indexation?

What is Indexation in Mutual Funds
What is Indexation in Hindi

इंडेक्सेशन एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके माध्यम से इस Assets के प्राइस और वैल्यू को मुद्रास्फीति के माध्यम से उसे वर्तमान स्थिति की कीमतों पर लाया जाता है। यह indexation की प्रक्रिया प्राइस इंडेक्स का उपयोग करके पूर्व की जाती है। यह प्राइस इंडेक्स Assets को खरीदते समय या उसे बेचते समय इन्फ्लेशन को एडजस्ट करता है।

यह तो आप जानते ही हैं कि इन्फ्लेशन समय के साथ इस Assets की वैल्यू को कम कर देती है लेकिन indexation किसी भी इन्वेस्टर को Assets की वैल्यू को बढ़ाने का विकल्प देता है। 

Sponsored

indexation निकालने के लिए हर साल सरकार द्वारा Cost Inflation index यानी महंगाई सूचकांक जारी किया जाता है। और 2022-23 का Cost Inflation Index 331 है। 

म्यूचुअल फंड में इंडेक्सेशन का मतलब क्या होता है? What is indexation in Mutual funds? 

indexation को समझ लेने के बाद चलिए अब समझते हैं What is indexation in Mutual funds? तो जैसा कि आप जानते हैं म्यूचुअल फंड में किया गया निवेश पूंजीगत लाभ प्रदान करता है। और यह लाभ शॉर्ट टर्म या लोंग टर्म दोनों ही अवधि के लिए हो सकते हैं। यह इस बात पर निर्भर करता है कि निवेशक ने कितने समय के लिए म्यूचुअल फंड में निवेश किया था।

तो indexation Mutual fund पर लगने वाले टैक्सेशन को कम करने में मदद करता है। लेकिन यह indexation लाभ केवल उन्हीं कैपिटल गेन पर मिलती है, जोकि डेट म्यूचुअल फंड हो। यानी कि अगर निवेशक ने 36 महीने या उससे अधिक समय के लिए म्यूचुअल फंड में निवेश किया हो और उससे पूंजीगत लाभ प्राप्त किया हो तो indexation बेनिफिट के माध्यम से कर को कम किया जा सकता है।

डेट म्युचुअल फंड का अर्थ है कि जिसमें 36 महीने या उससे अधिक समय के लिए निवेश किया गया हो। वही इक्विटी म्युचुअल फंड का अर्थ है कि जिसमें 12 महीने या उससे अधिक समय के लिए निवेश किया गया हो लेकिन indexation म्यूचुअल फंड के केवल डेट म्यूचुअल फंड के लिए ही कार्य करती है। 

Sponsored

indexation कैसे कैलकुलेट किया जाता है? How to calculate Indexation?

indexation कैलकुलेट करने के लिए आपके पास Cost inflation Index की सूची होनी चाहिए जिसे आप नीचे दिए गए चित्र के माध्यम से देख सकते हैं। तो अब मान लीजिए कि आपने 2012-13 में किसी Mutual fund की 5000 यूनिट को ₹18 प्रति यूनिट के हिसाब से खरीदा था। और आपने उस यूनिट को दो हजार अट्ठारह उन्नीस में ₹27 की प्रति यूनिट की दर से बेच दिया।

वित्त वर्ष (Financial Year)महंगाई सूचकांक (Cost Inflation Index)
2001-02100
2002-03105
2003-04109
2004-05113
2005-06117
2006-07122
2007-08129
2008-09137
2009-10148
2010-11167
2011-12184
2012-13200
2013-14220
2014-15240
2015-16254
2016-17264
2017-18272
2018-19280
2019-20289
2020-21301
2021-22317
2022-23331

तो यह एक डेट म्यूचुअल फंड है क्योंकि इसमें अपने 36 महीने से अधिक के लिए निवेश किया था। तो आप यहां पर indexation लगा सकते हैं।

सामान्य लाभ = 5000 (27 – 18) = ₹45000 

Sponsored

तो, इस तरह यहां पर आपको कुल ₹45000 का फायदा हुआ लेकिन अगर हम इसी लाभ को indexation के माध्यम से गणना करते हैं तो आपको कुछ इस प्रकार से लाभ प्राप्त होगा

indexation = 280/200*18 = 25.2

आप यहां पर देख सकते हैं कि पहले आप अपने डेट म्युचुअल फंड की 5000 यूनिट को केवल ₹18 प्रति यूनिट के हिसाब से खरीदा था लेकिन अब उसी ₹18 की वैल्यू बढ़कर 25.2 रुपए हो गई है। 

indexation लगाने के बाद लाभ

5000 * (27-25.2) = ₹9000

Indexation बेनिफिट म्यूचुअल फंड टैक्स से कैसे बचाता है?

तो यहां पर अभी तक हमने यह जाना कि आपको indexation लगाने से पहले और indexation लगाने के बाद कितना लाभ मिलेगा। तो इस तरह हम आपको बता दें कि टैक्स स्लैब के अनुसार आपके द्वारा कमाई गई पूंजीगत लाभ पर 22.8 8% का टैक्स लगता है।

इस प्रकार indexation लगाने से पहले मिले लाभ में आपको ₹10296 का टैक्स देना होगा। जो कि 45000 का 22.88% है।

वही indexation लगाने के बाद आपको मिलने वाला लाभ ₹9000 हो गया और इसके अनुसार आपको केवल ₹2059 का टैक्स देना होगा।

तो इस तरह आप अपने डेट म्युचुअल फंड को बेचकर indexation मैनिफिट के माध्यम से अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं और टैक्स से भी बचाव कर सकते हैं।

निष्कर्ष

आज के इस लेख में हमने जाना कि What is indexation in Mutual funds? उम्मीद है कि इस लेख के माध्यम से आपको indexation से संबंधित सभी जानकारियां मिल पाई होंगी। यदि आप इस विषय से संबंधित कोई अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते हो तो कृपया हमें कमेंट करके बताएं।

Leave a Comment